सेक्स संबंधों में दूरियों की एक बड़ी वजह

सारा दिन भागदौड़ और तनाव का असर इंसान के सेक्‍स जीवन पर भी पड़ रहा है।  तमाम शोध बताते हैं कि खासतौर पर महानगरीय शादीशुदा जोड़ों में सेक्‍स को लेकर उदासीनता लगतार बढ़ रही है। यह उदासीनता उनके संबंधों में दूरियों की एक बड़ी वजह के तौर पर भी सामने आ रही है। शादीशुदा जिंदगी में सेक्‍स महत्वपूर्ण है, और इसके लिए बढ़ रही उदासीनता सही नहीं है।

शादी बिना सेक्स के कारण

  1. शादी के बाद शुरूआती दिनों में सब ठीक रहता है लेकिन बच्चे होने के बाद खासकर महिलाओं का ध्यान पूरी तरह से बच्चों पर केंद्रित हो जाता है, जिससे सेक्स रिलेशंस में कमी आने लगती है। ऐसे में पुरूषों की जिम्मेदारियां उतनी नहीं होतीं, जितनी की महिलाओं की होती हैं।
  2. शादी के बाद धीरे-धीरे बढ़ने वाली जिम्मेदारियां और किसी तनाव के कारण भी सेक्स के बिना ही वैवाहित जीवन बीतने लगता है।
  3.  बच्चों के होने के बाद बढ़ने वाले खर्चें भी पति-पत्नी को चिंताओं में डाल देते हैं जिससे दोनों के बीच सेक्स रिलेशंस कम और तनाव अधिक बढ़ने लगता है।
  4. कई बार शादी के बाद या बच्चे होने के बाद, बढ़ती उम्र  या अन्य कारणों से भी सेक्सलेस मैरिज के चांस बढ़ जाते है।
  5. पति-पत्नी की सोच न मिलने से भी दोनों के बीच सेक्स रिलेशंस बनने कम हो जाते हैं या फिर दोनों की इस प्रकार से सेक्स के प्रति अरूचि उत्पन्न हो जाती है।
  6. आज कई दं‍पती वर्किंग हैं और परिवार की जिम्मेरदारी और आर्थिक रूप से मजबूत होने के चक्कर में वो आपस में एक-दूसरे को समय नहीं दे पाते। यानी भौतिक सुख-सुविधाओं को जुटाने के चक्कर में पति-पत्नी की निजी जिंदगी खासा प्रभावित होती है।
  7. पति-पत्नी में से किसी के अफेयर होना भी सेक्सलैस मैरिज का कारण हो सकता है।

ये भी पढ़े : महिलाओं के लिए पहली रात के कुछ खास टिप्स जरुर पढ़े