ट्रेन से उतकर पहले रंडीखाने जाकर चोदा

नमस्कार प्यारी प्यारी चूत को मेरा सलाम | बुरा मत मानो यारो तुम्हारे लंड के लिए भी दुआ करेंगे कि अच्छी अच्छी चूत तुम्हे चोदने को मिले | इसी बात पर एक शेर याद आया | अर्ज है गोरी चूत न चोदिये जो करे चूत पर घमंड…वाह वाह वाह !…गोरी चूत न चोदिये जोर करे चूत पर घमंड…काली चूत चोदिये जो लपक के चूसे लंड हा हा हा | चलो कुछ ज्यादा मुहचोदी हो गयी | अब मैं अपने बारे में कुछ बताता हूँ | मेरा नाम आलोक है | जी हाँ भैया सही पकडे है यूपी के हैं हम | मेरी उम्र 28 साल है और बोलो भोसड़ी वाला अभी तक कुंवारे है |

अब या बताये यार बहनचोद किस्मत में कोई लड़की लिखी ही नहीं है | साला चुदाई के बाद कोई शादी ही नही करना चाहता | अब इसमें उनकी की भी क्या गलती ? मेरा लंड ही है फौलादी | कसम से झूट तो हम बोलते नहीं है | 10 इंच लम्बा और 4 इंच मोटा लंड है मेरा | आज जो मैं कहानी लिख रहा हूँ ये मेरे जीवन की पहली कहानी है | चलो तो ज्यादा वक़्त नही लेंगे आप लोगो का और सीधा कहानी शुरु करता हूँ |

ये बात पिछले साल गर्मी की है | मै और मेरे दोस्तों ने प्लान बनाया कि कहीं घूमने चलते हैं | पहले तो ये प्लान बना था कि बनारस घूमने चलेंगे | लेकिन फिर प्लान बदल कर कोलकाता जाने की सोचे | उसके बाद ट्रेन का रिजर्वेशन कराया | उसके बाद २ तारीख अगस्त को निकलना था | उसके बाद दो तारीख को हम सब रेडी हो कर स्टेशन अब हम लोग ट्रेन में थे | ट्रेन भी चलना चालू हो चुकी थी | हम सब दारू पीने लगे ट्रेन में और जब नशा हो गया तो हम सब मुहचोदी करना शुरू कर दिए | हम लोग ऐसी मुहचोदी कर रहे थे जिससे किसी को भी परेशानी नही हो रही थी क्यूंकि हम लोग आपस में मुहचोदी कर रहे थे | उसके बाद हम सब फिर से दारू पी और सो गये |

उसके बाद जब हम कोलकाता स्टेशन पंहुचे | वहां पंहुच कर वेटिंग रूम में फ्रेश अप हुए | फिर हम स्टेशन से निकल कर होटल गये और रूम बुक किये | खाना खाने के बाद हम घुमने निकल गये | हम एक जगह पंहुचे जहाँ पर अजीब सी गली थी और वहां खूब सारी लडकियो और औरतो का डेरा जमा हुआ था | हमें समझते देर ना लगी कि साला यह ही रंडी बाजार है | फिर हम सब वहां गये और बात करने लगे रेट की | उनलोग बड़ी मादरचोद रंडी थी | पैसे को लेकर बहुत बहस हुई |

उसके बाद जब रेट लगा तो उसमे मुझे एक लड़की पसंद आ गयी उसकी उम्र कोई 20 साल के आस पास होगी | मैंने उस दल्ली से पूछा कि क्यों रे छिनार इसका क्या भाव है ? तो उसने बोली ए मादरचोद गाली दे के बात मत करना | तो मैंने भी बोला मादरचोद रंडी हैं न तू तो तेरी माँ कि चूत क्यू जले जा रही है | सीधा सीधा पूछ रहा हूँ बता न ? तब उसने बोली कि इसका रेट 1000 रूपए है तो मैंने भी कहा कि 2000 रूपए दूंगा और सुन बहनचोद रंडी मैं इसके साथ कैसे भी चुदाई करू किसी की झांटे नही जलनी चाहिए | नहीं तो बहनचोद मैं किसी को भी नहीं सुनूंगा और माँ चोद दूंगा सबकी | ये सुन कर किसी ने भी कुछ नहीं कहा और मैं उस लड़की को ले कर कमरे में घुस गया |

वो लड़की दिखने में बहुत ही गच्च आइटम थी और उसका भरा बदन मुझे बहुत पसंद आया जिस वजह से मैंने उसे पसनद किया | रंडी थी अब इसमें क्या देखना कि कौन कैसा है ? पर दोस्त मैं ऐसा ही हूँ | जो मुझे पसंद आ जाये मैं उसे पा कर ही रहता हूँ |

फिर मैंने उसे खुद के लिए 500 रूपए अलग से दिया | मैंने उससे कहा कि मेरे कपडे उतार | पर वो टर्रा कोप मुझे जवाब दी कि लोडे यहाँ तू चूत मारने आया है बीवी बनाने नहीं | तो मैंने भी कहा मादरचोद पैसा दे रहा हूँ समझी ज्यादा ताव मत दिखा | जैसा बोल रहा हूँ वैसा कर नहीं तो तेरी माँ चोद दूंगा समझी ना छिनार | फिर वो मेरे पास आई और मेरे शर्ट को उतार दी | फिर उसके बाद उसने मेरे पेन्ट और अंडरवियर को भी उतार दी | अब मैं उसके सामने बिलकुल नंगा हो चुका था | फिर मैंने उसके सूट को उतार कर नंगा कर दिया |

अब हम दोनों ही नंगे थे | फिर मैंने उससे कहा कि मादरचोद मेरा लंड चूस | तो उसने भी जवाब देते हुए बोली सुन बे मादरचोद ढंग से बात कर | तो मैंने बोला बहन की लौड़ी मुझसे मुंह मत चला पैसा बोल कितना चाहिए | तो उसने बोली पैसा तू अपनी गांड में डाल ले | ये सुन कर मुझे गुस्सा आया तो मैंने उसके बाल पकडे और दीवार पर टिका दिया | वो बचाओ बचाओ चिल्लाने लगी तो मैंने कहा मादरचोद 1000 रूपए है तेरा रेट | बहनचोद 2000 दे कर आया हूँ | 500 रूपए तुझे अभी दिया हूँ | कोई नहीं आयगा मादरचोद | अब ये बात वो भी समझ चुकी थी |

फिर वो अपने घुटने के बल नीचे बैठ गयी और मेरे विशालकाय लंड को हाँथ में ले कर हिलाने लगी | मुझे अब बहुत अच्छा लग रहा था | फिर उसने मेरे लंड को चाटना चालू कर दी और मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मजे लेने लगा | वो मेरे लंड को चाटते चाटते मेरे दोनों अन्टोले को चूसने लगी |

तो मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए बोला रंडी की औलाद अच्छे से कर दर्द हो रहा है | फिर वो मेरे दोनों अन्टोलो को आराम आराम से चूसने लगी और मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए आन्हे भर रहा था |

फिर उसने मेरे लंड को मुंह में डाल ली और हिलाते हिलाते चूसने लगी और मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए उसके सिर को पकड़ के खड़ा था | वो मेरे लंड को बहुत मजे ले कर चूस रही थी और मैं भी अब आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए लंड चूसा रहा था |

फिर उसके बाद मैंने उसे खड़ा किया और गोद में उठा कर बेड पर लेटा दिया | अब मैं उसके गोरे गोरे दूध को पकड़ के जोर जोर से मसलने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करने लगी | फिर मैं उसके दोनों दूध को अपने मुंह में भर लिया और चूसने लगा | अब वो भी गरम हो चुकी थी और आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारिया ले रही थी |

मैं उसके दूध को जोर जोर से पीने लगा और मेरे दांत उसके निप्पल पर लग रहे थे तो उसने मुझसे कहा कि आराम से करो न मैं साथ तो दे रही हूँ न | तो मैंने कहा मादरचोद जैसा मैं कर रहा हूँ करने दे नहीं तो तेरी गांड मार लूँगा समझी रंडी छिनार | वो चुप हो गयी | अब जैसे ही मैंने उसकी चूत में अपना लंड डाला उसकी चीख निकल गयी और आँख से आंसू निकलने लगे | वो मुझे लंड बाहर निकालने को बोलने लगी तो मैंने कहा मादरचोद कुछ नहीं होगा तुझे ज्यादा नाटक मत कर चूत का छेद ही तो बड़ा होगा न | तेरी माँ क्यों चुद रही है बहनचोद |

फिर मैं उसकी चूत की चुदाई करने लगता हूँ और वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करने लगती है जोर जोर से | मैं उसकी चूत को जोर जोर से चोदने लगा और उसके दोनों दूध को मसलने लगा और वो बस आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए चुदवा रही थी |

करीब आधे घंटे तक मैंने उसको खूब चोदा | कंडोम पहना था इसलिए माल उसी में झड़ गया | उसके दूध लाल हो चुके थे और उसकी चूत भी सूज गयी थी उससे ठीक से चला भी नहीं जा रहा था | ऐसा है मेरा फौलादी लंड और मैं | तो दोस्तों मैंने आपसे कुछ भी नहीं छुपाया है अब आप ही बताना मुझे कि आपको मेरी ये कहानी कैसी लगी |

इस कहानी को WhatsApp और Facebook पर शेयर करें