पति और बेटे ने मिल कर चोदा

प्रेषक: राहुल

45 वर्षीय जेनिथ आज बहुत खुश था. क्यों कि बड़े दिनों के बाद अपने छोटे से परिवार के साथ छुट्टियाँ मनाने शहर से काफी दूर एक हिल स्टेशन पर जा रहा था. काम के भरी भरकम बोझ से समय निकाल कर जेनिथ अपनी 40 वर्षीय पत्नी जूलिया और एक 16-17 साल का एक बेटा पीटर के साथ छुट्टियाँ मनाने खुबसूरत पहाड़ी के वादियों के बीच बसे एक छोटे से कसबे में पहुँच कर होटल में एक डबल बेड रूमबुक किया. जेनिथ ने पहले ही सोच लिया था कि वो लोग यहाँ कम से कम एक सप्ताह रुकेंगेऔर जी भर कर इस जगह की सैर करेंगे. उसकी पत्नी जूलिया एक खुबसूरत और जवान स्त्री थी. उसे देख कर कोई ये अंदाजा नही लगा सकता था कि वो एक16 -17 साल के बेटे की माँ है. उसी प्रकार पीटर भी अल्प आयु में ही लंबा हो जाने के कारण जवान दिखता था. जेनिथ एक बहुत बड़े कम्पनी में बड़े ओहदे पर था. पैसे की कोई कमी नही थी. वो लोग एक शानदार होटल में पहुँच कर एक डबल बेड का रूमबुक करने के बाद रूमके अन्दर दाखिल हुए.कमरे में सिर्फ एक ही बड़ा सा पलंग था जिस पर चार व्यक्ति भी आराम से सो सकते थे. शाम के चार बज रहे थे.वो लोग थक चुके थे. इसलिए सबों ने प्रोग्राम बनाया कि आज अब सिर्फ आराम किया जाय और कल सुबह से घूमा जाएगा. सबसे पहले जेनिथ ने स्नान करने का फैसला किया. वो सिर्फ अंडरवियर पहन कर स्नान करने चला गया. वो जल्दी ही वापस आ गया. फिर पीटर भी सिर्फ अंडरवियर पहन कर बाथरूम गया. इधर जूलिया अपने सभी कपडे खोल कर सिर्फ पेंटी और ब्रा में आ गयी थी ताकि वो भी जल्दी से नहाने जा सके. जूलिया को सेक्सी पेंटी और ब्रा में देख कर उसके पति जेनिथ का लंड उफान पर आ गया. ऐसी बात नही थी कि दोनों पति पत्नी आपस में सेक्स नहीं करते थे लेकिन रोमांटिक जगह पर जूलिया को इस तरह देख के जेनिथ को अपने हनीमून के दिन याद आ गए. वो जूलिया को बेड पर लिटा कर उसके चूची को दबाने लगा.
देखते देखते उसके ब्रा और पेंटी को खोल दिया और खुद भी नंगा हो गया. हालांकि जूलिया ने मना किया कि पीटर कभी भी बाहर आ जायेगा. मगर जेनिथ को इस बात की कोई चिंता नही दिख रही थी. जूलिया भी मस्त हो गयी और जेनिथ का साथ देने लगी. जेनिथ ने अपना आठ इंच का लंड जूलिया के चूत में डाल कर उसे चोदने लगा. अचानक पीटर बाथरूम से निकल कर रूममें आ गया. वो अपनी मॉम चुदाई देख कर ठिठक गया. हालांकि उसने पहले कई बार अपनी मॉम को ब्रा और पेंटी में देखा था. लेकिन उसे कभी उम्मीद ही नहीं थी कि उसकी मॉम की चूत इतनी बड़ी होगी और वो इस तरह से चुदवाती होगी. इधर जेनिथ और जूलिया ने भी पीटर को अपने पास खड़ा देखा. मगर दोनों इस पोजीशन में पहुँच गए थे कि अब बिना चरम सीमा पर पहुंचे दोनों रुक नही सकते. जूलिया ने मुस्कुराते हुए और चुदवाते हुए अपने बेटे पीटर को कहा – नहा लिया तुमने बेटा ? पीटर ने दूसरी तरफ मुह घुमा कर अपना सामान खोजते हुए कहा – हां मॉम.. जेनिथ अपनी पत्नी जूलिया के चूत में धक्के मार रहा था. पत्नी को चोदते हुए ही उसने कहा – माफ़ करना बेटे.मै अपने आप को रोक नही पाया. तुम्हे बुरा तो नहीं लग रहा? पीटर – नो, पापा, इसमें बुरा मानने की क्या बात है. वो आपकी पत्नी है और पति – पत्नी के बीच ये तो होता ही है..औरमै अब कोई बच्चा नहीं हूँ. हम सब यहाँ मौज मस्ती करने आये हैं. इसलिए आराम से मस्ती कीजिये. जेनिथ – शाबाश बेटा….आ आ ह्ह्ह हह ….ऊ ऊ उह ह्ह्ह ह …. जेनिथ ने अपना लंड से ढेर सारा वीर्य निकाल दिया कुछ जूलिया के चूत के अन्दर गिरा कुछ उसके बाहर. 10 मिनट तक अपनी पत्नी के नंगे बदन पर ढेर रहने के बाद जेनिथ बाथरूम जा कर अपने लंड को धोया फिर बाहर आ कर अंडरवियर पहना. तब जा कर जूलिया नंगे बदन ही बाथरूम गयी और नहा कर नंगे बदन ही वापस आई. फिर उसने जेनिथ और पीटर के सामने ही कपडे पहने. हालांकि अपनी मॉम की चूत और चुदाई देख कर पीटर का लंड खड़ा हो गया था. लेकिन उसने इसे छुपा लिया. उसके बाद सब तैयार हो कर खाना खाने के लिए बाहर के होटल गए . खाना खा कर वापस नौ बजे अपने कमरे में वापस आये. कमरे में वापस आते समय जेनिथ ने बीयर की पांच बोतलें खरीद लीं. जेनिथ ने कमरे में आते ही सबसे पहले सभी कपडे खोल सिर्फ अंडरवियर में आ गया. उसने अपनी पत्नी जूलिया और बेटे पीटर को भी सिर्फ अंदरुनी वस्त्र में ही रहने की हिदायत दी. इसलिए जूलिया सिर्फ ब्रा और पेंटी पहन ली और पीटर भी सिर्फ अंडरवियर पहन कर सोफे पर बैठ गया. जेनिथ ने बीयर की बोतलें खोल दीं और तीन ग्लास लगाए. उसने पीटर को भी बियर पीने के लिए कहा. पहले तो पीटर कुछ हिचकिचाया लेकिन जूलिया ने कहा – ओह कम ऑन बेटे,अब तुम जवान हो गए हो. तुम भी हमारे साथ शामिल हो सकते हो. फिर तीनो साथ साथ बियर पीने लगे.दो बोतल समाप्त होते होते तीनो को गरमी चढ़ने लगी. जेनिथ ने जूलिया को अपने गोद में बिठा लिया. और उसकी चूची सहलाने लगा. उधर जूलिया भी जेनिथ के लंड को अंडरवियर के ऊपर से ही दबा रही थी. एक दो पैग और पीने के बाद जेनिथ ने जूलिया के ब्रा को खोल कर चूची को चूसने लगा. यह देख पीटर का लंड तनतना गया. जूलिया ने जेनिथ के अंडरवियर को खोल दिया और उसके बड़े लंड को अपने हाथ से आगे पीछे करने लगी. ये देख कर पीटर का लंड पानी पानी हो गया . थोड़ी ही देर में जेनिथ ने जूलिया की पेंटी भी खोल दिया. जूलिया पूरी तरह से नंगी हो गयी . वो दोनों अपने बेटे के सामने ही नंगे हो कर एक दुसरे को चूम रहे थे और दोनों एक दुसरे के गुप्तांगों को मसल रहे थे. जेनिथ उसके चुचियों को बुरी तरह मसलने लगा. फिर एक हाथ से जूलिया के चूत को भी मसलने लगा. जूलिया काफी मस्त हो गयी. उसने अपने चूत को ऊपर उठाया और जेनिथ के लंड के ऊपर से ला कर उसके लंड को अपने चूत में घुसा कर धीरे धीरे जेनिथ के गोद में बैठ कर मस्ती लेने लगी. उधर पीटर अपने माँ-बाप की ये हरकत देख कर काफी आनंदित हो रहा था. उसका लंड भी खड़ा हो गया था. अचानक जेनिथ की नजर अपने बेटे पीटर के अंडरवियर पर गयी जिसके अन्दर उसका लंड फुफकार मार रहा था. बियर के नशे ने जूलिया और जेनिथ के होश खो दिए थे. जेनिथ ने अपने बेटे को कहा – मुर्ख. क्या तुम नहीं देख रहे कि हम दोनों ने कपडे नहीं पहने हैं? फिर तू क्यों अंडरवियर पहने हुए है. चल खोल इसे. पीटर ने तुरंत ही अंडरवियर खोल दिया. उसका लंड भी काफी तन चूका था. जूलिया ने कहा – ओह माई गोड , जेनिथ, देखो तो अपने बेटे पीटर का लंड भी तुमसे कम नही रहा अब तो. देखो तो कितने घने बाल भी हो गए हैं हमारे बेटे के लंड पर. जेनिथ – हाँ , सच में जूलिया – ज़रा इधर आना बेटे. पीटर अपनी मॉम के पास पहुँच. मॉम ने झट से उसके लंड को पकड़ कर मसलते हुए कहा – यस. ये भी नौ इंच से कम नहीं है. ओह कितना प्यारा लंड है. अभी ही ये हाल है.लड़कियों के चूत फाड़ देगा ये तो. जेनिथ – आखिर बेटा किसका है. हाहा हाहा हाहा हा हा जूलिया पीटर का लंड मसलते हुए बोली- बेटा , मुठ मारते हो कि नहीं? पीटर – हाँ मॉम. जूलिया – अरे वाह, कहाँ से सीखा? पीटर – ओह मॉम. इन्टरनेट के ज़माने में अब सब तुरंत ही सीखा जाता है. जेनिथ- शाबाश मेरे शेर. कभी प्रैक्टिकल किया कि नहीं किसी की चूत में अपन लंड डाल कर? पीटर – नहीं डैड, अभी तक कोई मिली ही नहीं. जूलिया – ओह,एक दम कुंवारा लंड है . मन करता है कि चूस चूस के इसका रस पी लूँ. जेनिथ – हाँ क्यों नहीं जूलिया, इसके लंड को अपने मुंह में ले कर चुसो और इसे भी आनंद दे कर कुछ प्रैक्टिकल करवाओ. जूलिया – ओके माई डियर, कह कर वह आगे की और झुकी और अपने बेटे का लंड को मुंह में ले कर चूसने लगी. जूलिया की चूत में जेनिथ का लंड घुसा हुआ था और उसके मुंह में पीटर का लंड. वो जोरदार तरीके से पीटर का लंड चूस रही थी. पीटर की आँखे मस्ती के मारे बंद हो गयी. थोड़ी ही देर में उसके लंड ने माल निकालना शुरू कर दिया.जूलिया ने अपने बेटे के लंड का माल बड़े ही प्यार से पी लिया. जेनिथ – वाह बेटे, वेल डन. क्यों जूलिया, कैसा लगा मेरे शेर बेटे का लंड चूसने में ? और इसका माल कैसा है. जूलिया – आह,सचमुच हमारा बेटा शेर है.और इसके माल का तो जवाब ही नहीं. बिलकूल क्रीम की तरह टेस्टी है. जेनिथ – अब अपनी चूत में मेरा माल ले. ये कह कर वो जूलिया को जोर जोर से अपने लंड पर उछ्लाने लगा. जूलिया आह आह करती हुई मस्ती के आलम में आ चुकी थी. कुछ देर में ही जेनिथ के लंड ने भी माल का फव्वारा जूलिया के चूत में छोड़ दिया. फिर जूलिया उसके लंड पर से उठ कर अपने नंगे बेटे के साथ बगल वाले सोफे पर बैठ गयी और बियर के दो पैग गटागट पी गयी. उधर पीटर का लंड अभी भी तनतनाया हुआ था. वो अपने हाथ से अपने लंड को सहला रहा था. उसने अपने बगल बैठी मॉम के कंधे पर हाथ रखा .  दोस्तों आप यह कहानी गुरुमस्ताराम डॉट कॉम पर पढ़ रहे है | फिर अगले ही पल अपना हाथ थोडा और नीचे किया और मॉम की चुचियों को छूने लगा. जूलिया ने कहा -आराम से दबा ना. शर्माता क्यों है? पीटर अपनी मॉम के चुचियों को जोर जोर से दबाने लगा. जूलिया – ओह बेटे. क्या मस्त अंदाज़ हैं तेरे. . जूलिया ने भी अपने बेटे के लंड को पकड़ कर मसलते हुए कहा – तेरा लंड तो अभी भी एकदम टाईट है. जेनिथ – अरे भाई, जवान लड़का है. एक बार में माल निकलने से इसका क्या होने वाला है. अगर येचाहे तो अभी रात भर तुझे चोद सकता है. जूलिया – हे पीटर, क्या तुमने सच में किसी लड़की को नही चोदा है अब तक पीटर – नही मॉम. हाँ कुछेक लड़कियों के चुचियों को दबाया है लेकिन चूत नहीं चोदा. जेनिथ – हे पीटर , क्यों नहीं तू आज अपनी मॉम को ही चोद कर इसका भी अनुभव ले लेता है. पीटर – क्या? लेकिन…. जूलिया – ओह कम ऑन पीटर बेटा. आज तू मुझे चोद कर बस इंज्वाय कर ले ..इस से मेरी चूत कुछ कम थोड़े ही हो जायेगी? मै भी तो देखूं मेरा बेटा कितना जानता है? कह कर वो सोफे पर ही अपनी टांग को पसार कर अपनी चूत खोल कर आधा लेट गयी. फिर बोली- आजा बेटे,ज़रा डाल तो अपना लंड इस चूत में. पीटर अपनी मॉम के पास गया और उसकी चूत को सहलाने लगा. सहलाते सहलाते उसने अपनी उंगली जूलिया के चूत में घुसा दी. जूलिया- ओह माय गोड, ये तो सब कला जानता है. ओह कितनी मस्ती है इसकी उँगलियों में. अब देर मत कर बेटा. पीटर – मॉम, मै चूँकि नया हूँ इसलिए इस सोफे पर नहीं हो सकेगा. तुम बेड पर आओ. जूलिया – ओके जूलिया बेड पर आ कर लेट गयी और अपनी टांगों को मोड़ कर आजू बाजू फैला दिया. इस से उसका चूत का दरवाज़ा पुरी तरह खुल कर पीटर को अपना लंड घुसाने के लिए न्योता देना लगा. पहले पीटर अपनी मॉम के बदन पर लेट कर उसके चुचियों का रसपान किया. इस से जूलिया एक दम गरम हो गयी. फिर पीटर ने अपने एक हाथ से अपना नौ इंच का लंड पकड़ा और अपनी मॉम के चूत पर लगाया और उसे अन्दर डाल दिया. जूलिया की चीख निकल गयी – ओह माय गोड, तेरा लंड तो तेरे बाप से भी मोटा है रे. उधर जेनिथ बोला – आखिर बेटा किसका है? हा हा हा हा शाबाश मेरे शेर. चोद डाल अपनी मॉम के चूत को. पीटर अपनी मॉम की चूत की चुदाई चालु कर दी. एक हाथ से वो अपनी मॉम की बड़ी बड़ी चुचियों को भी बुरी तरह से मसल रहा था. जूलिया की सचमुच हालत ख़राब हो गयी. वो तो पीटर नया नया था इसलिए सिर्फ दो मिनट में ही उसका माल निकलने का सिग्नल देने लगा.  दोस्तों आप यह कहानी गुरुमस्ताराम डॉट कॉम पर पढ़ रहे है | जूलिया भी समझ गयी कि अब पीटर छूटने वाला है. अगले ही पल पीटर के लंड ने माल का फव्वारा छोड़ अपनी मॉम के चूत में छोड़ दिया. जेनिथ – वाह बेटे, वेल डन. क्यों जूलिया, कैसा लगा मेरे शेर बेटे से चुदवाने में? . जूलिया – आह, सचमुच हमारा बेटा शेर है. और मै भाग्यशाली हूँ की इस शेर की पहली शिकार मै ही बनी. जेनिथ ने कहा – अब तो तेरे दोनों छेद एक साथ भरे जायेंगे. एक में मेरा लंड और दुसरे में मेरे बेटे का लंड रहेगा. जूलिया – ओह गोड, अब तो मेरे चूत और गांड की खैर नहीं.. हा हा हा हा हा हा जेनिथ – तो पीटर बेटा, हो जाए एक बार और,इस बार तो अपनी मॉम की चूत में अपना लंड डाल और मै इधर से इसकी गांड में अपना लंड डालता हूँ.फिर देख इसकी क्या हालत होती है. पीटर – ओके डैड. मॉम तुम्हे कष्ट तो नहीं होगा न? जूलिया – ओह, मै तो कब से सपने देखती थी कि काश मेरे दोनों छेद में एक साथ दो शेरों के लंड रहते.आज लगता है कि ऊपर वाले ने मेरी सुन ली. आज मै अपने पति और बेटे से एक साथ चुदवाउंगी. कितनी सौभाग्यशाली हूँ मै? फिर पहले जेनिथ अपना लंड खडा कर के लेट गया. उसके लंड पर जूलिया ने अपना गांड का छेद डाला और उस पर धीरे धीरे बैठ गयी. फिर धीरे धीरे वो जेनिथ के बदन पर पीठ के बल लेट गयी. उसके गांड में जेनिथ का लंड घमासान मचा रहा था. फिर पीटर ने अपनी मॉम के टांगों को मोड़ा और आजू बाजू फैला कर चूत के द्वार को चौड़ा किया. फिर आराम से अपना नौ इंच का लंड अपनी माँ के चूत में धीरे धीरे पेल दिया. जूलिया की तो आज गांड फट ही गयी थी. लेकिन उसे स्वर्ग सा मज़ा आ रहा था. धीरे धीरे नीचे से जेनिथ ने जूलिया का गांड मारना शुरू किया और ऊपर से उसका बेटा पीटर उसकी चूत चोदना चालु किया. थोड़ी ही देर में ऐसा लगने लगा मानो दो चक्की के बीच में जूलिया पीस रही है. दो दो विशालकाय लंड उसके चूत और गांड को चोद रहे थे. करीब पंद्रह मिनट के बाद जूलिया की चूत ने पानी छोड़ दिया और वो दोनों से मिन्नत करने लगी कि अब छोड़ दो. लेकिन दोनों बाप बेटे मानने को तैयार नही थे. दुसरे पंद्रह मिनट के बाद पीटर के लंड ने ढेर सारा लावा अपनी मॉम के चूत में उगल दिया. फिर तीन मिनट के बाद जेनिथ के लंड ने भी जूलिया के गांड में लावा का ढेर छोड़ दिया. इस तरह से आधे घंटे के घमासान युद्ध के बाद शान्ति छाई. इसके बाद भी किसी ने जूलिया के गांड या चूत से अपना लंड नही निकाला. फिर धीरे धीरे पीटर अपनी मॉम के बदन पर उतरा और बगल में ही लेट गया. जूलिया भी उस से सट कर लेट गयी. पीछे से जेनिथ ने भी जूलिया को लपेट लिया. इस प्रकार दोनों बाप बेटे अपने बीच में जूलिया को लपेटे हुए उसके चूची , चूत और गांड से छेड़ छाड़ करते हुए रात भर में कई बार जूलिया की चूत और गांड की पेलाई की. फिर तो जूलिया की किस्मत खुल चुकी थी. वहां के होटल में तो शेष दिन दोनों बाप बेटे ने मिल कर जुलीया को ठोका ही. वापस घर आ कर भी जूलिया अपने पति के साथ साथ अपने बेटे पीटर के लंड का भी मज़े लेती रही. तो दोस्तों ये कहानी कैसी लगी आप लोग मेल कर या निचे कमेंट कर मुझे बता सकते है | [email protected]