sudhas Archive

अंकल लुंगी उठाकर मेरी चूत में घुसेड़ते

अंकल लुंगी उठाकर मेरी चूत में घुसेड़ते, अंकल के लिंग की सुपारी इतनी बड़ी थी कि उससे मेरी पूरी चूत ही ढक गई थी अंकल बीच-बीच में अपने सुपारी को मेरी चूत पर हौले-हौले से पटकते भी थे मैं समझ गई थी कि अंकल मेरी चूत पर केवल अपना लिंग क्यों रगड़ रहे हैं, चूत …

मेरी रांड भक्ति देख बॉस ने चोदा

मेरी रांड भक्ति देख बॉस ने चोदा, मेरे मुम्मो पर बुरी तरीके से कस गाये और सरवन पूरी ताकत से अपना लोडा मेरी चुत मे पेला और आई एम कमीगं बेबी और सरवन ने अपने माल से मेरी चूत भर दि और 10 मिनट बाद मेरी चुत से अपना लोडा निकाल कर मेरे ऊपर से …

रुचिका और निकुंज की काली काली चुत

रुचिका और निकुंज की काली काली चुत, मेंने अपना लंड निकुंज की चूत से निकाल कर रुचिका के मूह मे डाल दिया और पेशाब कर दिया अभी रुचिका ने थोड़ा ही स्प्रे किया तो निकुंज होश मे आ गई तो रुचिका ने बाक़ी पेशाब पी लिया और बोल्ली वाउ किया टेस्ट था तुम्हारे पेशाब मे …

तीन सहेलियों की गांड मरवाने की चाहत

तीन सहेलियों की गांड मरवाने की चाहत, निशा की गांद में उन दोनो का पूरा का पूरा लंड समा चुका था. वो दोनो अब उनकी गांद मार रहे थे. मैने राज से कहा, चलो अब तुम भी शुरू हो जाओ. राज ने मेरी गांद मारनी शुरू कर दी.

गाव में भाभी की चुत रगड़ रगड़ के चोदा

गाव में भाभी की चुत रगड़ रगड़ के चोदा, भाभी ने मुझे बेड पर पटक दिया और मेरे ऊपर आ कर मुझे पूरा नंगा कर दिया और खुद भी पूरी नंगी हो गयी और मेरे ऊपर चढ कर मेरा लन्ड सहलाने लगी। वो मेरे ऊपर ६९ की पोजीशन में लेट गयी, मेरा लन्ड अपने मुंह …

चुत में जबान डाल के चोदा

चुत में जबान डाल के चोदा, मैंने धीरे धीरे कर के अपना लंड उसकी चूत में घुसा दिया और उसको चोदने लगा पहले पहले मैंने एकदम स्लो स्लो चोदा इस सेक्सी मरिया को फिर मेरी स्पीड बढ़ गई वो भी आह्ह्ह कर के हिल रही थी और अब मस्त चुदवा रही थी फिर मेरे लंड …

माँ ने भडवा गाली दे देके चुदवाया

माँ ने भडवा गाली दे देके चुदवाया, मैने मां के गांड में और ज़ोर का झटका दिया। वो भी उसकी गांड ज़ोरो से आगे पीछे हिला रही थी आखिर में मैने ज़ोर का झटका दिया और मेरे लंड का पानी मां की गांड में डाल दिया मां चिल्लाई कितना पानी है तेरे में खतम ही …

दोस्त से असंतुष्ट भाभी ने मेरा लंड खाया

दोस्त से असंतुष्ट भाभी ने मेरा लंड खाया, अब वो बिल्कुल नंगी थी. अब हम दोनों बेड पर लेट गये और वो मेरे ऊपर चढ़ गयी और बोली कि कब से मेरे मन में एक प्लान था कि में तुमसे चुदवाऊँ और आज मेरी इच्छा पूरी हो गई है फिर में भी बोला कि भाभी …

बुआ की लड़की की सील तोड़ने का अनुभव

अब फिर से मेरे लण्ड की रफ्तार तेज हो गई.. उसे भी मजा आने लगा और अब वह भी बोल रही थी- भैया और चोदो जोर-जोर से.. चोदो.. मेरी प्यासी चूत की प्यास बुझा दो।

चोदने का मौका किसी को कभी भी मिल सकता है

इस कहानी में आप पढेंगे की चुदाई का कोई न वक्त होता है न ही प्लान चोदने का मौका किसी को कभी भी मिल सकता है इसलिए हमेशा तैयार रहे. कहानी को पूरा पढ़े और कहानी कैसी लगी हमें कमेंट कर बताये.